Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए

newskastore.com
10 Min Read
Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए दोस्तों, बर्कन मिसाइल्स फलक रॉकेट्स और बर्कन मिसाइल्स एक ऐसे घातक हथियार हैं जो बहुत कम रेंज में बहुत ज्यादा पेलोड कैपेसिटी रखते हैं यही कारण है कि इनमें बहुत अधिक एक्सप्लोसिव सामग्री भरी जा सकती है.हिजबुल्ला की खुद की बर्कन मिसाइल

Contents
Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गएइज़राइल लेबनान सैनिक युद्धइज़राइल लेबनान युद्ध कब तक चलेगाइज़राइल लेबनान युद्ध के कारणNova IPO Kitna Return DegaHow To Earn Money At HomeHero Xtreme 160R 4V Mileage, Price & Engine DetailsJio Phone 5G Release Date 5000mAh बैटरी और नई फीचर्स के साथ 2024 में लॉन्च होने वाला है।Vivo x100s Review दमदार 5000mAh बैटरी प्रोसेसर और स्टोरेज होने वाला लॉन्च !Google Pixel Watch 3 Review पहली बार इतनी बड़ी डिस्प्ले के साथ हो सकती है लॉन्चSkoda Superb 2024 में होगी शानदार एंट्री, 50 लाख में मिलने वाली है, जानिए फीचर्स और परफॉर्मन्सMoto Edge 50 Pro Price इंडिया में लॉन्च, कंपनी का पहला AI फोन जो 125W की चार्जिंग और आपको कम प्राइस में देखने मिलने वाला हैTata Mutual Fund in 2024 टाटा का सबसे अच्छा म्यूचुअल फंड की जो 3 महीने में आपको FD में 4 गुना का फायदा करके देने वाला है1 April Rule Changes: 1 April से बदलने जा रहे सारे कायदे-कानून है आपके जीवन में असर डालने वाले ये नियमVivo V25 5G Review: 16GB रैम के साथ आयेगा यह स्मार्टफ़ोन जो इंडिया में लॉन्च होने वाले है।भारत में 2024 में सबसे ज्यादा माइलेज देने वाली बाइक Honda Unicorn Price और नए फीचर्स के साथ लॉन्च होने वाली हैASUS Zenbook 14 OLED Price: ASUS ने मात्र 20,000 का लैपटॉप लॉन्च कियाSamsung Galaxy A55 5G Price & Review 2024Honda Electric Cycle Release Date: पहाड़ जेसी दमदार बाइक Honda वालों ने लॉन्च की है।

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए
Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए तेहरान की मदद से, यानी ईरान की राजधानी में आईआरजीसी के एक अनुसंधानकर्ता की मदद से, और सीधे ईरान से आयात किए गए फलक रॉकेट से, हिजबुल्लाह ने कुछ ऐसा किया है इजराइली नॉर्दर्न बॉर्डर में कि बॉर्डर का पूरा हिस्सा जल गया यदि आप मानते हैं कि हिजबुल्ला ने हर इजराइली पोस्ट को सीधे हिट किया है, तो आपको बता देंगे।

हिजबुल्लाह ने यूएस बेस, जिसे टावर 22 कहा जाता था, पर हमला किया, जिसमें तीन अमेरिकी सैनिक मारे गए. आपको बता दें कि हिजबुल्लाह एक सोची समझी साजिश के तहत काम कर रहा है, पहले अमेरिकी सैनिकों पर हमला करने के बाद कल इजराइल को नॉर्दर्न बॉर्डर पर हमला करने का मौका नहीं दिया. दोनों संघर्षों के पीछे दो कारण बताए जा

इज़राइल लेबनान सैनिक युद्ध

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए हिजबुल्ला सीक्रेट प्लान और लेबनान पर चढ़ाई करने की प्रतिक्रिया से परेशान है इजराइली बॉर्डर को नॉर्दन से अलग करने की एक वजह है, और दूसरी वजह है कि इजराइल को सीज फायर के लिए झुकना पड़ा है। गोलानी ब्रिगेड, जो सबसे पुरानी और सबसे महत्वपूर्ण ब्रिगेड थी, इजराइली फौज को भारी नुकसान हुआ, जब हमास ने अपनी तीव्र ताकत दिखाई। इजराइली सैन्य बलों को इतना बड़ा नुकसान पहुँचाया कि उन्हें गाज से बाहर निकालना पड़ा।

भूमध्य सागर के किनारे बसा इज़राइल एक ऐसा देश है, जहां इतिहास की धड़कनें प्राचीन खंडहरों से झांकती हैं और उजाड़ मरुस्थल हरे-भरे खेतों से मुस्कुराते हैं. आज हमारी सैर इस अनोखे देश में, जहां आधुनिक तकनीक प्राचीन परंपराओं से हाथ मिलाती है.

लेकिन युद्धाभ्यास में नए कमांडोज को ट्रेनिंग देना असंभव है। ऐसी स्थिति में अधिक कमांडोज लॉस होने से अधिक एलीट फोर्स के सदस्य मर जाते। इजराइल जंग को जारी रखने में असफल रहा, इसलिए उसने कई अलग-अलग सेनाओं को राहत देने का आदेश दिया और उन्हें गाज के अंदर से बाहर निकाल दिया. हालांकि, हमास ने स्पष्ट रूप से कहा कि हम सिर्फ तब सीज फायर करेंगे जब आप पूरी तरह से अनलिमिटेड कंप्रिहेंसिव सीज फायर करेंगे, यानी कि कोई भी हमला नहीं होना चाहिए।

इज़राइल लेबनान युद्ध कब तक चलेगा

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए इजराइली सैनिकों को जेल से रिहा करने के लिए हर एक इजराइली सैनिक 100 से 250 फिलिस्तीनी सैनिकों को रिहा करने वाला था और 42 से 45 दिन तक फायरिंग नहीं करने वाला था। Исराइल ने ऐसा करने की कोशिश की, लेकिन हमास ने स्पष्ट रूप से कहा कि हम ऐसी कोई डील स्वीकार नहीं करेंगे।

सीआईए प्रमुख विलियम बर्न्स, कृपया इस बात को समझिए कि अमेरिका की खुफिया एजेंसी का प्रमुख और इजराइल की शिन बेथ और मसाद वहां बैठे हैं। इजराइल के प्रमुख और खतरनाक अधिकारी वहां बैठे थे, साथ में इजिप्शियन वरिष्ठ अधिकारी और कतर के प्रधानमंत्री. रविवार को वे पेरिस में थे, जहां उन्होंने हमास और इजराइल के साथ बातचीत की, और इजराइल ने प्रस्ताव दिया कि हम 42 से 45 दिन का पूरा सीस फायर करेंगे, जिसमें हमें कुछ 33540 मिलेगा।

इज़राइल लेबनान युद्ध के कारण

YouTube

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए अब आईडीएफ ने हमास को जितना नुकसान पहुंचाना था उतना ही नुकसान उठाया है। अब हिजबुल्लाह बचा खुचा नुकसान पहुंचाने वाला है और अपनी पूरी ताकत से पहुंचाने वाला है, जिससे इजराइली सेना भी निराश हो जाएगी। डिफेंस मिनिस्टर यो गैलेंट भी डर गया है, इसलिए उन्होंने इजराइली फौज की गुलानी ब्रिगेड को भेजा, जो सबसे पुरानी, सबसे शक्तिशाली और सबसे बड़ी ब्रिगेड है।

अब नॉर्दर्न बॉर्डर पर परिस्थिति क्या होने वाली है समझ लीजिए। हिजबुल्लाह और इजराइल एक बार फिर आमने-सामने होने वाले हैं, और अगर हिजबुल्लाह ने अपनी 50 प्रतिशत शक्ति भी दिखाई तो आप भी इजराइल चलो।

Israel Lebanon War लाखों सैनिक मारे गए को झुकना पड़ेगा और सीज फायर की डील में मान जाएगा हमास के साथ क्या लगता है? आपको लगता है कि इजराइल मानेगा या नहीं मानेगा? आपको लगता है कि सीज फायर होगा या नहीं? कृपया अपने विचारों को नीचे कमेंट सेक्शन में लिखकर जरूर बताएं।

Nova IPO Kitna Return Dega

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *